आखिर बालों का रंग काला ही क्यों होता है, हरा और पीला क्यों नहीं!

आखिर बालों का रंग काला ही क्यों होता है, हरा और पीला क्यों नहीं!

ये दुनिया बहुत अजीब है इसमें कई ऐसे सवाल हैं जिनके जवाब हम नहीं जानते हैं। जैसे रोटियां गोल ही क्यों बनती हैं, गाडी के टायर गोल ही क्यों होते हैं, मौसम अलग-अलग क्यों हैं, मम्मी पापा से ज्यादा अच्छी क्यों होती हैं, बालों का रंग काला ही क्यों होता हैं? ऐसे ही कई सवाल जो हमारे मन को झकझोर देते हैं। हमारे बालों का रंग काला ही क्यों होता हैं।

इस मॉडल ने न्यूड होकर बेशर्मी से दिए अश्लील पोज़, देखें तस्वीरें

बालों का रंग काला ही क्यों होता हैं:

बालों में मेलानिन तत्व की मात्रा सबसे ज्यादा पाई जाती हैं जिसके कारन वह काले रंग के होते हैं और जैसे-जैसे यह तत्व कम होता जाता हैं वैसे-वैसे बालों में सफेदी आ जाती हैं और बालों का रंग काले से सफेद होने लगता हैं। बाल बचपन से काले होते हैं क्योंकि हमारे बालों में बचपन से मेलानिन तत्व सबसे ज्यादा मिला होता हैं जो बालों को काल बनाए रखने में मदद करता हैं।

लड़कियां खास लुक पाने के लिए ट्राई करें ये स्टाइलिश ईयररिंग्स

ये है खास वजह:

मेलानिन तत्व बालों की रंगत सुधारता हैं अगर वह ज्यादा हैं तो बाल काले रहेंगे, कम हैं तो बाल सफेद हो जाएंगे और मीडियम हैं तो बाल भूरे होंगे। मेलानिन तत्व जैसे-जैसे बालों से नष्ट होता हैं वैसे ही बाल सफेद हो जाते हैं और फिर लोगों को अपने बालों में डाई और मेहँदी लगानी पड़ती है।

अगर जम्प सूट पहनने जा रही है, तो इन बातो का रखें खास ध्यान

Advertisements
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *