विटामिन ए की कमी से टीबी का खतरा

तपेदिक (टीबी) से बीमार लोगों के साथ रहने वाले विटामिन ए के निम्न स्तर वालों में पोषक तत्वों के उच्चस्तर वालों की तुलना में टीबी का खतरा 10 गुना अधिक होता है। एक शोध के निष्कर्षों में कहा गया है कि विमामिन ए की खुराक टीबी के प्रसार को रोकने में महत्वपूर्ण होता है। टीबी दुनिया भर में मौत के एक प्रमुख कारणों में से है।

अमेरिका के बोस्टन में हार्वर्ड मेडिकल स्कूल के प्रोफेसर व वरिष्ठ लेखक मेगन मरे ने कहा, “यदि विटामिन ए की पूरक आहार के तौर पर नैदानिक परीक्षण में संबंध की पुष्टि की गई है, तो यह टीबी के अधिक जोखिम वालों में यह टीबी रोकने में अत्यधिक सहायक होगा।”

इस शोध के निष्कर्षो का प्रकाशन पत्रिका ‘क्लिनिकल इंफेक्शियस डिजीजेज’ में हुआ है। यह निष्कर्ष पेरू के लीमा में 6000 से ज्यादा घरों से लिए गए लोगों के रक्त नमूनों के विश्लेषण पर आधारित है।

शोधकर्ता ने कहा कि जोखिम में 10 गुना वृद्धि आश्चर्यजनक है।

साल 2015 में टीबी से 18 लाख से ज्यादा लोगों की मौत हुई थी। टीबी कम और मध्यम आय वाले देशों में सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचाती है, जहां विटामिन ए की कमी जनसंख्या के 30 फीसदी से ज्यादा को प्रभावित कर सकती है।

Advertisements
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *